अंग्रेजी में शिष्टाचार ( Essay on Good Manners ) | Importance of Good Manners for Students and Children in English

भिन्न-भिन्न भाषाओं के भिन्न-भिन्न तौर-तरीके एवं शिष्टाचार के नियम होते हैं। हिन्दी भाषा में आदर सूचक शब्द ‘जी’ तथा ‘आप’ का प्रयोग किया जाता है। अंग्रेजी भाषा में ‘आपका’ प्रयोग नहीं किया जाता है सिर्फ ‘you’ का प्रयोग किया जाता है जिसका अर्थ ‘तुम’ है। अंग्रेजी भाषा में शिष्टाचार के विभिन्न शब्द हैं, जैसे–Please (कृपया), Thanks (धन्यवाद), Sorry (खेद है) आदि शब्द विनम्रता और शिष्टता के सूचक हैं।

 

After you

Excuse me

Grateful

Glad to meet you

Kindly

No mention

No thanks

Never mind

Obliged

Please

Pardon

Sorry

Thanks

Thankyou

Welcome

आपके बाद।

मुझे क्षमा करें।

मैं कृतज्ञ हूँ।

आपसे मिल कर खुशी हुई।

दयालुतापूर्वक ।

कोई बात नहीं।

नहीं, धन्यवाद ।

कोई बात नहीं।

आभारी हूँ।

कृपया।

क्षमा करें।

खेद है।

धन्यवाद ।

आपका धन्यवाद ।

स्वागत है।

 

अब आप इन शब्दों का यथास्थान प्रयोग करना सीखेंगे :

1. अगर आपको किसी से पेंसिल, किताब, कलम या फिर चाहे एक कप दूध ही क्यों न माँगना हो या फिर किसी के प्रश्न का उत्तर ‘yes, (हाँ) में देना हो तो उस वाक्य में ‘Please’ जोड़ दे या फिर सिर्फ ‘Please’ ही कह दें तो आपकी बात का प्रभाव बहुत ही बढ़ जाता है तथा आपका कार्य आसानी से हो जाता है।

 

Give me your pen.

Give me a cup of milk.

Give me hundred rupees.

मुझे अपना पेन देना।

मुझे एक कप दूध दे दो।

मुझे 100 रुपये देना।

लेकिन ‘please’ या ‘kindly’ जोड़ने पर आप कहेंगे –

Please give me your pen.
A cup of milk please.
Kindly, give me hundred rupees.
Time please.
Please, I can do it.
  • साधारण औपचारिकता निभाने के लिए आप थैंक्स कहकर सामने वाले को खुश कर सकते हैं। अगर आपसे कुछ खाने के लिए या कुछ लेने के लिए बोलता है और आप उसे नहीं खाना या नहीं लेना चाहते तो आप ‘No thanks’ नो, थैंक्स का प्रयोग किजिए। ऐसा कहकर आपने मना भी कर दिया तथा आपके शिष्टता का प्रदर्शन भी हो गया।

अंग्रेजी में शिष्टाचार प्रदर्शित करने के लिए ‘Thanks’ या ‘Thank you’ के बदले आपको निम्न वाक्यों का प्रयोग करना होगा –

No Mention.
It is fine.
All right, sir.
You’re always welcome.
My Pleasure.
कोई बात नहीं।
बहुत अच्छा जी।
ठीक है, श्रीमानजी ।
आपका सदा स्वागत है ।
इससे मुझे बहुत खुशी हुई।

 

  • उपरोक्त वाक्यों के अलावा भी और कई शब्दों द्वारा आप अपना शिष्टाचार व्यक्त कर सकते जैसे-यदि आपको किसी की मदद करनी है, किसी बुजुर्ग को सड़क पार करानी है, किसी को रास् बताना है तो आप बड़े नम्रता भरे स्वर में कहेंगे May I help you (में आई हैल्प यू) अर्थात् ‘क्या आपकी मदद कर सकता हूँ?’ या फिर ‘Allow me’ (अलाउ मी) अर्थात् ‘मुझे आज्ञा दे’। ये सभी वा किसी ग्राहक से, रेलवे स्टेशन पर, बस स्टैण्ड पर भी बोल सकते हैं।
  • यदि आपसे कोई व्यक्ति कुछ माँगता है आप उसे देने के लिए तैयार है तो आप ‘with great pleasu (विद ग्रेट प्लेजर) या फिर ‘you are always welcome’ (यू आर आलवेज़ वेलकम) आदि वाक्यों प्रयोग कर विनम्रता प्रदर्शित कर सकते हैं।
  • किसी वृद्ध अथवा बीमार व्यक्ति को रास्ता देते हुए आप कह सकते हैं कि ‘After you’ आफ्टर यू। इससे सामने वाला व्यक्ति पर आपके व्यक्तित्व का सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।
  • वर्तमान समय में अंग्रेजी में Sorry (सॉरी), Pardon me (पार्डन मी), Excus me (एक्सक्यूज मी) कहना एक रिवाज Fashion सा बन गया है। किसी का पैर दब जाए, किसी से टक्कर लग जाए तो बस ‘Sorry’ बोल देने भर से आपकी गलती माफ हो जाती तथा आपके व्यक्तित्व की सकारात्मक छवि प्रदर्शित होती है।
  • उपरोक्त शब्दों का इस्तेमाल अन्य स्थानों पर भी किया जाता है, जैसे-आपको टेलीफोन पर बात करते समय दूसरे की बात ठीक से समझ नहीं आ रही है तो आप ‘जरा जोर से बोलिए, मैं सुन नहीं पा रहा हूँ’ Speak, loudly, I cann’t hear your voice’ के स्थान पर Pardon’ (पार्डन) या फिर please, I beg your pardon (प्लीज, आई बेग योर पार्डन) कह दे, इससे आपकी समस्या का हल हो जाएगा।

 

शिष्टाचार रूपी कुछ सामान्य वाक्य (Some common polite phrases)

Your good name please?

May I have the pleasure of your introduction?

Excuse me for being late.

Beg my apologies.

Have you brought your Identity card?

It’s very kind of you.

Let me introduce myself.

Do me a little more favour.

Glad to meet you.

Would you mind doing it?

आपका शुभ नाम ?

क्या मैं आपका परिचय पा सकता हूँ?

क्षमा कीजिए, देर हो गई।

मेरी ओर से क्षमा मांग लें।

क्या आप अपना परिचय पत्र लाए है ?

आपकी बड़ी मेहरबानी।

मैं आपना परिचय स्वयं देता हूँ।

थोड़ी सी कृपा और करें

आपसे मिलकर खुशी हुई।

क्या आप यह कर देंगे ?

 

अंग्रेजी (English) भाषा में क्षमा मांगने के लिए Sorry, Excuse me, Forgive me, Pardon me आदि शब्दों का इस्तेमाल किया जाता है परन्तु इन सबका अर्थ अलग होता है।

  • Sorry (सॉरी) का अर्थ है मुझे खेद दुखः है। चाहे आपकी कोई गलती हो या ना हो सॉरी कह दिया जाता है।
  • Excuse me (एक्सक्यूज मी) का अर्थ है, मुझे क्षमा करें परन्तु वास्तव में क्षमा मांगने के लिए इसका प्रयोग नहीं होता। कुछ कहने के पूर्व अथवा किसी को व्यवधान पहुंचने पर भी Excuse me (एक्सक्यूज मी) कहा जाता है।
  • Pardon (पार्डन) का अर्थ होता है मेरे अपराध को क्षमा कर दीजिए।

हिन्दी भाषा में छोटों के लिए ‘तुम’ तथा बड़ों के लिए ‘आप’ शब्द का इस्तेमाल किया जाता है परन्तु अंग्रेजी भाषा में सभी के लिए ‘You’ शब्द का इस्तेमाल होता है।

वर्तमान समय में अंग्रेजी भाषा में short forms का अत्यधिक चलन है, जैसे-I am के लिए I’m कहना। इसके अन्य उदाहरण निम्नलिखित हैं

I have-I’ve
Does not-Doesn’t
Do not-Don’t
Are not-Aren’t

 

Next Day छठा दिन / 6th Day (CLICK HERE)
सामान्य भावबोधाक वाक्य Common Exclamatory Sentences
इंग्लिश स्पीकिंग के फुल कोर्स पर जाये :- CLICK HERE

 

इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स

इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स : Day #1

इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स : Day #2

इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स : Day #3

इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स : Day #4

इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स : Day #5

इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स : Day #6

इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स : Day #7

इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स : Day #8

इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स : Day #9

इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स : Day #10

इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स : All Day

 

 

Leave a Comment